लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
कोरोना के 2.56 लाख से अधिक नमूनों की जांच
देश में कुल 1,268 कोरोना टेस्ट लैब
रक्षा मंत्री का लद्दाख दौरा स्थगित
पुतिन 2036 तक बने रहेंगे राष्ट्रपति
श्रमिको के अधिकार रौंदने की कोशिश अनुचित:राहुल
प्रवासी मजदूरों की मौत पर मगरमच्छ के आंसू बहा रहा है केंद्र: चिदम्बरम
जापान में कोरोना संक्रमण के 14000 से अधिक मामले
कोरोना की लड़ाई में ‘सावधानी हटी दुर्घटना घटी’ : मोदी
देश में कोरोना के 768 नये मामले, 36 की मौत
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी

देश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

जेएनयू हिंसा के दाेषियों को गिरफ्तार करें सरकार: कांग्रेस

जेएनयू हिंसा के दाेषियों को गिरफ्तार करें सरकार: कांग्रेस

नयी दिल्ली 09 जनवरी (वार्ता)  09 Jan 2020      Email  

नयी दिल्ली 09 जनवरी  कांग्रेस ने दिल्ली के जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय (जेएनयू) में हिंसा के दोषियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग करते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि इसके लिए केंद्रीय गृहमंत्री और मानव संसाधन विकास मंत्री जिम्मेदार है।
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और प्रवक्ता जयराम रमेश ने यहां पार्टी मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जेएनयू की हिंसक घटना को 72 घंटे हो गए हैं लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।
उन्होेंने कहा, “ जो कांड घटा जेएनयू में करवाया गया है। इसके पीछे कौन था, हम सब जानते हैं। मैं सीधा आरोप लगा रहा हूं। इसके पीछे मानव संसाधन मंत्री और गृहमंत्री, दोनों शामिल हैं। ये ‘ऑफिशियली सपोंसर्ड गुडांइज्म’ है। 72 घंटे हो गए हैं और दिल्ली पुलिस को जानकारी है किसकी गिरफ्तारी होनी चाहिए, पर आज तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। लापरवाही है, पर ये जानबूझ कर लापरवाही है।”
उन्होेंने कहा कि कांग्रेस पार्टी मांग करती है कि जिनको पहचाना गया है, उनको गिरफ्तार किया जाना चाहिए। इसके अलावा वर्तमान कुलपति को हटाया जाना चाहिए। उनके पद पर रहने तक जेएनयू में सामान्य स्थिति बनने की कोई गुंजाइश नहीं है। सरकार को कुलपति का त्यागपत्र लेना चाहिए और छात्रों की मांगों पर गंभीरता से विचार करना चाहिए।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

गंभीर चोट केवल विकलांग ही नहीं बल्कि गहरे भावनात्मक निशान भी छोड़ती है
गंभीर चोट केवल विकलांग ही नहीं बल्कि गहरे भावनात्मक निशान भी छोड़ती है

सुप्रीम कोर्ट ने सड़क दुर्घटना के पीड़ित के मामले में मुआवजा राशि में वृद्धि करते हुए कहा कि अदालत को यह ध्यान में रखना चा

प्रेम और शादी के नाम पर धर्मांतरण कराने वालों पर शिकंजे की तैयारी
प्रेम और शादी के नाम पर धर्मांतरण कराने वालों पर शिकंजे की तैयारी

प्रेम और विवाह के नाम पर धर्मांतरण के बढ़ते मामलों के मददेनजर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों से