लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर

स्थानीय

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था

नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था

लखनऊ।   31 Jul 2019      Email  

तीन तलाक बिल लोकसभा के बाद राज्यसभा में भी पास होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि तीन तलाक विधेयक का संसद में पारित होना भारत के संसदीय इतिहास का सबसे गौरवशाली दिन है। इस बिल का पारित होना केवल किसी मत, मजहब या जाति के लिए नहीं बल्कि नारी गरिमा और उनके सम्मान की रक्षा के लिए आवश्यक था। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा उठाए गए इस कदम के लिए हम उनका अभिनंदन करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत के संविधान में किसी भी नागिरक के साथ किसी भी प्रकार के भेदभाव को स्थान नहीं दिया गया है। महिला और पुरुष के बीच के भेदभाव को खत्म करने के लिए यह बिल जरूरी था। दुनिया के तमाम देशों जिनमें बहुत सारे इस्लामिक देश भी शामिल हैं, अपने यहां तीन तलाक की कुप्रथा को प्रतिबंधित कर रखा है। उस सबके बावजूद आजादी के बाद से दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश यानि हमारे देश के अंदर यह व्यवस्था चली आ रही थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह दुर्भाग्य कि बात है कि जो लोग महिला सशक्तिकरण की बात करते थे, उन लोगों ने लोकसभा और राज्यसभा में नारी गरिमा के प्रतीक इस बिल का विरोध किया। देश में कांग्रेस और प्रदेश में सपा-बसपा जैसे दलों के नेताओं के चेहरे बेनकाब हुए हैं। अब उनके चेहरे सबके सामने आ चुके हैं। मैं विश्वास करता हूं नारी सशक्तिकरण की दिशा में इस बहुत बड़े कदम को हम आगे बढ़ाने सफल होंगे।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

व्हाट्सएप ग्रुप में आपत्तिजनक पोस्ट डालने के मामले में एक व्यक्ति गिरफ्तार
व्हाट्सएप ग्रुप में आपत्तिजनक पोस्ट डालने के मामले में एक व्यक्ति गिरफ्तार

श्रीगंगानगर, 11 नवंबर  अयोध्या विवाद पर उच्चत्तम न्यायालय के फैसले के बाद व्हाट्सएप ग्रुप में आपत्तिजनक पोस्ट डालने

अयोध्या फैसले के बाद भाईचारा बरकरार रखने के लिये जनता का शुक्रिया : योगी
अयोध्या फैसले के बाद भाईचारा बरकरार रखने के लिये जनता का शुक्रिया : योगी

लखनऊ 11 नवम्बर  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या मसले पर उच्चतम न्यायालय के ऐतिहासिक फैसले के