लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार

समाचार विवरण

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ', सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40,
फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewslko@gmail.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

छठे चरण का प्रचार खत्म, यूपी की 14 सीटों पर 25 को मतदान
छठे चरण का प्रचार खत्म, यूपी की 14 सीटों पर 25 को मतदान
एजेंसी    23 May 2024       Email   

लखनऊ।  लोकसभा चुनाव के छठे चरण में उत्तर प्रदेश में 15 जिलों की 14 सीटों पर चुनाव प्रचार गुरुवार शाम समाप्त हो गया। चुनाव के इस चरण में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की मौजूदा सांसद मेनका गांधी और दिनेश लाल निरहुआ के अलावा समाजवादी पार्टी (सपा) के धर्मेंद्र यादव समेत कई दिग्गजों की किस्मत तय होगी। मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) नवदीप रिनवा ने बताया कि इन 14 सीटों पर मतदान 25 मई को सुबह सात बजे से शाम छह बजे के बीच होगा। इसके अलावा बलरामपुर की गैंसड़ी विधानसभा सीट पर भी उपचुनाव होगा।

उन्होंने बताया कि जिन 14 लोकसभा क्षेत्रों में मतदान होना है,उनमें सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, फूलपुर, इलाहाबाद, अंबेडकर नगर, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संत कबीर नगर, लालगंज, आजमगढ़, जौनपुर, मछलीशहर और भदोही शामिल हैं। इनमें से 12 सीटें सामान्य वर्ग की हैं जबकि दो सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं। सीईओ ने बताया कि छठे चरण की 14 लोकसभा सीटें सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, प्रयागराज, अंबेडकर नगर, अयोध्या, बलरामपुर, श्रावस्ती, सिद्धार्थ नगर, बस्ती, संत कबीर नगर, गोरखपुर, आजमगढ़, जौनपुर,वाराणसी और भदोही जिलों में हैं। .

गौरतलब है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में इन 14 सीटों में से भाजपा ने दस पर कब्जा किया था जिनमें सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, बस्ती, इलाहाबाद, डुमरियागंज, संत कबीर नगर, आज़मगढ़, भदोही और मछलीशहर शामिल हैं। सुल्तानपुर में भाजपा की मौजूदा सांसद मेनका गांधी का मुकाबला सपा के भीम निषाद और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के उदय राज वर्मा से है वहीं प्रतापगढ़ में मौजूदा भाजपा सांसद संगम लाल गुप्ता का मुकाबला सपा के शिव पाल सिंह पटेल से है। इलाहाबाद की प्रतिष्ठित सीट पर वरिष्ठ भाजपा नेता और पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी के बेटे नीरज त्रिपाठी और वरिष्ठ सपा नेता रेवती रमण सिंह के बेटे उज्जवल रेवती रमण सिंह के बीच कड़ी टक्कर देखी जा रही है।

मौजूदा चुनाव से पहले उज्जवल ने सपा छोड़ दी थी और कांग्रेस में शामिल हो गये थे। अंबेडकर नगर में भाजपा के मौजूदा सांसद रितेश पांडे का मुकाबला सपा के लालजी वर्मा से है। पांडे ने 2019 में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के उम्मीदवार के रूप में सीट जीती थी। डुमरियागंज में भाजपा सांसद जगदंबिका पाल का सपा के भीष्म शंकर तिवारी और बसपा के ख्वाजा शमसुद्दीन से कड़ा मुकाबला है। गौरतलब है कि भीष्म शंकर उर्फ ​​कौशल तिवारी पूर्व मंत्री और कद्दावर नेता हरि शंकर तिवारी के बेटे हैं।

जौनपुर में महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री और भाजपा प्रत्याशी कृपाशंकर सिंह को सपा के बाबू सिंह कुशवाहा और बसपा के श्याम सिंह यादव से चुनौती मिल रही है। बाबू सिंह कुशवाहा पर राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन में भ्रष्टाचार के आरोप हैं और उनकी उम्मीदवारी का स्थानीय सपा नेता विरोध कर रहे हैं। भदोही में भाजपा के मौजूदा सांसद विनोद कुमार बिंद का मुकाबला तृणमूल कांग्रेस के ललितेश पति त्रिपाठी से है। त्रिपाठी यूपी के पूर्व सीएम कमला पति त्रिपाठी के पोते हैं।






Comments

अन्य खबरें

नायडू, लोकेश ने आंध्र प्रदेश को धन आवंटित करने के लिए वित्त मंत्री का जताया आभार
नायडू, लोकेश ने आंध्र प्रदेश को धन आवंटित करने के लिए वित्त मंत्री का जताया आभार

विजयवाड़ा।  आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू और आईटी एवं मानव संसाधन विकास मंत्री नारा लोकेश ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से मंगलवार को संसद में पेश किये गये केंद्रीय

रेल संरक्षा के एक लाख आठ हजार करोड़ रुपए: वैष्णव
रेल संरक्षा के एक लाख आठ हजार करोड़ रुपए: वैष्णव

नयी दिल्ली।  देश में रेल दुर्घटनाओं में वृद्धि के बीच आये आम बजट में रेलवे के पूंजीगत आवंटन में एक लाख आठ हजार करोड़ रुपये से अधिक संरक्षा के लिए व्यय करने का प्रस्ताव किया गया

पर्यटन मंत्रालय के आवंटन में करीब 50 प्रतिशत की वृद्धि :सीतारमण
पर्यटन मंत्रालय के आवंटन में करीब 50 प्रतिशत की वृद्धि :सीतारमण

नयी दिल्ली।  आम बजट 2024-25 में बिहार और ओडिशा में पर्यटन बुनियादी ढांचे के विकास की योजनाओं की घोषणा के साथ पर्यटन मंत्रालय के आवंटन में करीब 50 प्रतिशत की वृद्धि की गयी है। वित्त

आज का इतिहास
आज का इतिहास

नयी दिल्ली... भारतीय एवं विश्व इतिहास में 23 जुलाई की महत्वपूर्ण घटनाएं इस प्रकार हैं:- 1555: सरहिंद में सिकन्दर सूरी को हराकर मुगल शासक हुमायूं दिल्ली पहुंचा। 1829: अमेरिका के विलियम ऑस्टिन